गूगल अनुवाद करे (विशेष नोट) :-
Skip to main content
 

अपनी बात



डॉ. पौराणिक द्वारा अपनी बात:

न्यूरोज्ञान हिन्दी में ही क्यों हैं ? अंग्रेजी या अन्य भाषा में उपलब्ध क्यों नहीं हैं ?

न्यूरोज्ञान वेबसाइट विज़िट करने वाले दर्शकों के मन में इस तरह के सवाल जरुर आते होंगे, इन्ही सवालों का जवाब दे रहे हैं डॉ. अपूर्व पौराणिक (वीडियो देखे)

35 views

<< सम्बंधित लेख >>

Skyscrapers
My Lecture in Epilepsy Conclave for Neurologists in Jaipur (07 July, 2024)

HUMANITIES AS AN AID FOR EPILEPSY AWARENESS AND EDUCATION Awareness and Education about Epilepsy are Important for All Target Groups…

विस्तार में पढ़िए
Skyscrapers
सत्य के चेहरे (बतायें या न बताएँ ?) – एकांकी

(मिर्गी के मरीजों और परिजनों के साथ डॉक्टर की मीटिंग) डॉक्टर – मित्रो! आज हमने चर्चा की कि मिर्गी के…

विस्तार में पढ़िए
Skyscrapers
अंदर कोई है क्या ?

मूल कहानी “अंदर कोई है क्या?” का अंग्रेजी में अनुवाद “Dadi” इसी कहानी के अंत में दिया गया है ।…

विस्तार में पढ़िए
Skyscrapers
मरीज़ कथाएँ

मरीज कथाए या क्लिनिकल टेल्स, साहित्य की एक विशिष्ठ विधा है । जिसमें एक या अधिक रोगों के साथ जिंदगी गुजारने वालों की…

विस्तार में पढ़िए


अतिथि लेखकों का स्वागत हैं Guest authors are welcome

न्यूरो ज्ञान वेबसाइट पर कलेवर की विविधता और सम्रद्धि को बढ़ावा देने के उद्देश्य से अतिथि लेखकों का स्वागत हैं | कृपया इस वेबसाईट की प्रकृति और दायरे के अनुरूप अपने मौलिक एवं अप्रकाशित लेख लिख भेजिए, जो कि इन्टरनेट या अन्य स्त्रोतों से नक़ल न किये गए हो | अधिक जानकारी के लिये यहाँ क्लिक करें

फिलहाल कोई टिपण्णी प्राप्त नहीं हुई!

आपके नाम के अतिरिक्त अन्य कोई जानकारी यहाँ नहीं दिखाई जाएगी.

न्यूरो ज्ञान

क्या आप न्यूरो ज्ञान को मोबाइल एप के रूप में इंस्टाल करना चाहते है?

क्या आप न्यूरो ज्ञान को डेस्कटॉप एप्लीकेशन के रूप में इनस्टॉल करना चाहते हैं?